समंदर में फटा ज्वालामुखी, बदल गया द्वीप का नक्शा

अभी किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है

समंदर में फटा ज्वालामुखी, बदल गया द्वीप का नक्शा

 न्यूजीलैंड के पास स्थित टोंगा द्वीप के समुद्र में ज्वालामुखी का भीषण विस्फोट हुआ है। इसके बाद प्रशांत महासागर से सटे देशों में अलर्ट जारी किया गया है। खासतौर पर अमेरिका, जापाना, न्यूजीलैंड और आॅस्ट्रेलिया में सुनामी का खतरा है। आशंका जताई जा रही है कि इन देशों में 3 मीटर तक ऊंची लहरें उठ सकती हैं। भारत को अभी कोई खतरा नहीं है। ज्वालामुखी आने के बाद सैलेटलाइट से ली गई तस्वीरों में टोंगा द्वीप का नक्शा ही बदल गया है। अभी किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है। टोंगे द्वीप पर करीब एक लाख लोग रहते हैं।
यूएस वेस्ट कोस्ट, हवाई और अलास्का में सुनामी की ऊंची-ऊंची लहरों के उठने का खतरा है। वहीं जापान से भी सुनामी के टकराने की सूचना है, हालांकि नुकसान की कोई खबर नहीं आई है। कई फोटो-वीडियो सामने आए हैं। ज्वालामुखी इतना भीषण था कि धुएं का गुबार आसमान में करीब 20 किलोमीटर की ऊंचाई तक उठता दिखाई दिया। न्यूजीलैंड यहां से 2,300 किलोमीटर दूर है। यहां भी सुनामी की चेतावनी जारी की गई है।
हवाई में प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने हनाली में नवीलीविली, काउई में आधा मीटर (एक फुट) से 80 सेंटीमीटर (2.7 फीट) तक लहरों के टकराने की सूचना दी है। यहां अधिकारियों ने बताया है कि राहत भरी सूचना है कि पूरे द्वीपों में कोई नुकसान नहीं हुआ है और केवल मामूली बाढ़ आई है। सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए अपुष्ट वीडियो में टोंगा के तटीय क्षेत्रों में घरों और इमारतों के चारों ओर घूमते हुए बड़ी लहरें दिखाई दे रही हैं। न्यूजीलैंड की सेना ने कहा कि वह स्थिति की निगरानी कर रही है और स्टैंडबाय पर है, अगर कहा जाए तो सहायता के लिए तैयार है।