अखिलेश का आरोप: भाजपा गुजरात के लोगों को बुलाकर अफवाह और साजिश फैलाने का दे रही प्रशिक्षण, चुनाव आयोग से करूंगा शिकायत

मैं चुनाव आयोग से लिखकर शिकायत करूंगा कि कोविड प्रोटोकॉल को मानते हुए राजस्थान (Rajasthan), मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh), छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) समेत अन्य दूसरे प्रदेश से आए लोगों को वापस उनके प्रदेश में भेजा जाए।

अखिलेश का आरोप: भाजपा गुजरात के लोगों को बुलाकर अफवाह और साजिश फैलाने का दे रही प्रशिक्षण, चुनाव आयोग से करूंगा शिकायत

लखनऊ।  उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) में  विधानसभा चुनाव (Assembly elections) से पहले भाजपा (BJP) गुजरात (Gujrat) के लोगों को बुलाकर उन्हें अफवाह, झूठ, साजिश और नफरत फैलाने का प्रशिक्षण दे रही है। यह आरोप उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (SP President Akhilesh Yadav) ने लगाया। साथ ही उन्होंने चुनाव आयोग (Election commission) से मांग की है कि कोविड प्रोटोकॉल (covid protocol) का पालन करते हुए दूसरे राज्यों से आए लोगों को वापस उनके प्रदेश भेजा जाए। सपा अध्यक्ष ने कहा कि गुजरात के लोगों को वापस नहीं भेजा गया तो चुनाव निष्पक्ष नहीं होगा।

सपा मुख्यालय में रविवार को राज्य सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री पद से इस्तीफा देकर आए दारा सिंह चौहान (Dara Singh Chauhan) और उनके समर्थक नेताओं-कार्यकर्ताओं तथा अपना दल (S) विधायक डॉ. आरके वर्मा को समाजवादी पार्टी (SP) में शामिल कराने के बाद अखिलेश यादव ने गुजरात को लेकर भाजपा पर हमला बोला।  उन्होंने कहा कि उनका कोई कार्यकर्ता दूसरे प्रदेश से नहीं आया है। 

अखिलेश ने कहा, मैं चुनाव आयोग से लिखकर शिकायत करूंगा कि कोविड प्रोटोकॉल को मानते हुए राजस्थान (Rajasthan), मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh), छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) समेत अन्य दूसरे प्रदेश से आए लोगों को वापस उनके प्रदेश में भेजा जाए। अखिलेश ने कहा कि गुजरात के लोगों को वापस नहीं भेजा गया तो चुनाव निष्पक्ष नहीं होगा क्योंकि सोशल मीडिया (social media) पर तस्वीरें आई थीं कि गुजरात के लोग यहां पर अफवाह फैलाने के लिए, साजिश करने के लिए, झूठ फैलाने के लिए, पैसा बांटने के लिए और लोगों के बीच नफरत फैलाने के लिए प्रशिक्षण ले रहे हैं।

वहीं कानपुर के पुलिस आयुक्त पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने वाले पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण को भाजपा में शामिल करने के मौके पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर (Union Minister Anurag Thakur) द्वारा समाजवादी पार्टी पर लगाए गए आरोपों की याद दिलाने पर अखिलेश ने कहा, आप उत्तर प्रदेश के पत्रकार हैं, आप उनके (अनुराग ठाकुर के) सवालों के चक्कर में न पड़ें, आप प्रदेश की जनता का हित देखिए। 

जब अनुराग ठाकुर जैसे मंत्री आपसे कुछ कहें तो आप उनसे पूछिए कि आप जिस विभाग में मंत्री थे और जिस विभाग में मंत्री हैं उसने उत्तर प्रदेश को क्या दिया। जो कार्य सपा सरकार ने किया है उसकी आप कल्पना नहीं कर सकते। अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, अगर आप बहुत निष्पक्ष और ईमानदार पत्रकार हैं तो ऐसे आदमी (अनुराग ठाकुर) का आंकड़ा निकाल लीजिए और अगली बार बोलें तो उनके मुंह पर चिपका देना। 

उल्लेखनीय है कि रविवार को भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय में पूर्व आईपीएस अधिकारी असीम अरुण को पार्टी में शामिल कराने के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए केंद्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा था, समाजवादी पार्टी में वो जाते हैं जो दंगा करते हैं और भाजपा में वह लोग शामिल होते हैं जो दंगाइयों को पकड़ते हैं।

सपा के समाजवाद का असली खेल या तो प्रत्याशी को जेल या फिर बेल है। उन्होंने कहा कि सपा ने फ­रि से साफ कर दिया है कि वह प्रदेश को फिर दंगा प्रदेश बनाने की कोशिश कर रही है। इस मौके पर असीम अरुण ने कहा कि पांच वर्ष में भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था बेहतर रही और पुलिस को काम करने में सहूलियत मिली।