देश में जनवरी से मई के बीच 6.36 करोड़ लोगों ने भरी उड़ान, हवाई यात्रा करने वालों की संख्या में 36% का इजाफा

देश में हवाई यात्रा करने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। बीते जनवरी से मई महीने के बीच 636.07 लाख लोगों ने घरेलू विमानन सेवा प्रदाता एयरलाइनों में उड़ान भरी। पिछले साल 2022 तक उक्त अवधि में यह आंकड़ा 467.37 लाख था।

देश में जनवरी से मई के बीच 6.36 करोड़ लोगों ने भरी उड़ान, हवाई यात्रा करने वालों की संख्या में 36% का इजाफा

नई दिल्ली। देश में हवाई यात्रा करने वालों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। बीते जनवरी से मई महीने के बीच 636.07 लाख लोगों ने घरेलू विमानन सेवा प्रदाता एयरलाइनों में उड़ान भरी। पिछले साल 2022 तक उक्त अवधि में यह आंकड़ा 467.37 लाख था।

इस तरह घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में पिछले वर्ष की तुलना में जनवरी से मई महीने के दौरान 36.10% की वृद्धि दर्ज की गई। मासिक आधार पर इसमें 15.24% की वृद्धि दर्ज की गई। नागर विमानन निदेशालय (DGCA) की ओर से यह जानकारी साझा की गई है। बता दें कि बीते कुछ महीनों में देश का विमानन उद्योग अलग-अलग कारणों से चर्चा में रहा है।

Read More: ग्वालियर में चेंबर सफाई करने उतरे दो निगम कर्मचारियों की दम घुटने से मौत, 10 लाख मुआवजे का ऐलान

विमानन क्षेत्र में चुनौतियों के बावजूद बढ़ रही हवाई यात्रा करने वालों की संख्या

कुछ महीनों पहले देश के हवाई अड्डों पर भीड़-भाड़ परेशानी की खबरें आई थीं, जिसके बाद नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खुद देश की राजधानी के हवाई अड्डे का निरीक्षण किया था और अधिकारियों को व्यवस्था में सुधार का निर्देश दिया था।

Read More: दिल्ली में मुखर्जी नगर के कोचिंग सेंटर में लगी आग, कई मंजिला इमारत से रस्सी के सहारे नीचे उतरे छात्र

 

कई मौकों पर विभिन्न एयरलाइनों में खराबी और स्टॉफ व सहयात्री के साथ दुर्व्यवहार की खबरें भी सुर्खियां बनीं हैं। हाल ही में देश की एक प्रमुख विमानन कंपनी गो फर्स्ट का परिचालन दिवालियापन प्रक्रिया शुरू होने के कारण बंद करना पड़ा है।