आज डॉक्टरों का प्रदर्शन: बीएमएचआरसी में एचओडी की पिटाई, जीएमसी में एरियर नहीं मिलने से नाराजगी

दो बड़े अस्पताल में आज हो सकती है मरीजों को परेशानी, Patients may have trouble in two big hospitals today

आज डॉक्टरों का प्रदर्शन: बीएमएचआरसी में एचओडी की पिटाई, जीएमसी में एरियर नहीं मिलने से नाराजगी

भोपाल। शहर के दो बड़े अस्पतालों में आज डॉक्टरों के प्रदर्शन के कारण व्यवस्थाएं प्रभावित हो सकतीं हैं। बीएमएचआरसी में दो दिन पहले एक मरीज की मौत के बाद परिजनों ने न्यूरोसर्जरी विभाग के एचओड़ी डॉ. संदीप कुमार सोरते के साथ मारपीट कर अस्पताल में तोड़फोड कर दी थी, इसके बाद यहां के डॉक्टर और कर्मचारी नाराज चल रहे हैं। वहीं गांधी मेडिकल कॉलेज में एरियर न मिलने से नाराज मेडिकल टीचर्स आज प्रदर्शन के दौरान काली पट्टी बांधकर इलाज करेंगे।

डायरेक्टर से मिलेंगे डॉक्टर

सूत्रों के मुताबिक जिस दिन अस्पताल में मारपीट की घटना हुई उस वक्त डायरेक्टर डॉ. प्रभा देसिकन शहर से बाहर थीं। सोमवार को उनसे डॉक्टरों और कर्मचारियों ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मुलाकात करने वाले थे, लेकिन वे सोमवार को नहीं पहुंचीं। डॉक्टर और तमाम कर्मचारी आज डायरेक्टर से मिलकर अपना आक्रोश प्रकट करेंगे। डायरेक्टर से बातचीत संतोषजनक नहीं रही तो डॉक्टर प्रदर्शन कर सकते हैं।

जीएमसी में काली पट्टी बांधकर करेंगे इलाज और सर्जरी

गांधी मेडिकल कॉलेज में बीते आठ महीनों से एरियर न मिलने के कारण मेडिकल टीचर्स नाराज हैं। लगातार अधिकारियों को ज्ञापन देने के बाद भी समाधान नहीं हो पा रहा है। आज से मेडिकल टीचर्स चरणबद्ध आंदोलन की शुरूआत करेंगे। आज ओपीडी से लेकर ओटी और क्लास रूम में भी काली पट्टी बांधकर डॉक्टर और फैकल्टी ड्यूटी करेंगे।

एमटीए के अध्यक्ष डॉ. राकेश मालवीय का कहना है कि अफसरों की उदासीनता की वजह से आंदोलन की राह पर जाना पड़ रहा है। भोपाल संभाग के विदिशा मेडिकल कॉलेज में एरियर मिल गया, लेकिन भोपाल में नहीें दिया जा रहा है। आज काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन करने के बाद रोजाना एक घंटे का धरना देंगे। ओपीडी टाइम के बाद से रोजाना धरने का टाइम भी बढ़ाते जाएंगे और 12 अप्रैल के बाद काम बंद हड़ताल करेंगे।