सगे चाचा ने काटी भतीजी की गर्दन, थाने जाकर बोला-माता-पिता जिन्न बन गए इसलिए दे दी बलि

 सागर/बीना। खुरई में एक व्यक्ति ने अपनी सगी भतीजी की हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपित पुलिस थाने पहुंचा और आत्म समर्पण कर दिया। आप इतने पुलिस को बताया कि उसने अपनी भतीजी की बलि दी है। आरोपित एक दिन पहले ही राजकोट गुजरात से खुरई आया था।

 सागर/बीना। खुरई में एक व्यक्ति ने अपनी सगी भतीजी की हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपित पुलिस थाने पहुंचा और आत्म समर्पण कर दिया। आप इतने पुलिस को बताया कि उसने अपनी भतीजी की बलि दी है। आरोपित एक दिन पहले ही राजकोट गुजरात से खुरई आया था।


सोमवार की दोपहर खुरई के शिवाजी वार्ड निवासी भारत पिता दयाशंकर अहिरवार उम्र 25 वर्ष ने अपनी 7 वर्षीय भतीजी तनु पिता राजेश अहिरवार की हत्या से गर्दन काटकर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपित पुलिस थाने पहुंचा जहां उसने पुलिस को घटना की जानकारी दी और आत्मसमर्पण कर दिया। सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मामले की तस्दीक की। पुलिस ने आरोपित के पास से हंसिया जब्त करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद वार्ड में दहशत का माहौल है। तनु के माता-पिता सहित स्वजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो रहा है।

आत्मसमर्पण के बाद जब पुलिस ने भारत से हत्या करने का कारण पूछा तो उसने बताया कि उसके माता-पिता जिन्न बन गए हैं। वह भटक रहे हैं। उनकी मुक्ति के लिए अपनी भतीजी की बलि दी है। जानकारी अनुसार कुछ समय पहले भारत के माता-पिता की मृत्यु कैंसर से हो गई थी भारत लंबे समय से राजकोट की किसी नमकीन फैक्ट्री में काम कर रहा था। वह एक दिन पहले ही खुरई आया था। हत्या के पहले वह बाइक लेकर एक दुकान तक गया और वहां से हंसिया लेकर आया और घर पर घटना को अंजाम दिया।